Sex Stories Archive for October, 2012

कारनामा पूरा ना करने की सजा

उस गड़बड़ में जल्दी जल्दी में और डर के कारण मेरा बायां निप्पल अचानक पनीर की सब्जी में एकदम डूब कर बाहर निकल आया। ओह माँ... मेरे मुख से चीख निकल गई!

चूत से चुकाया कर्ज़-2

वो शाम 7 बजे वाली ट्रेन से ही निकलने वाले थे। मैं उनके सफ़र की तैयारी में लग गई और शाम 6.30 पर जैसे ही उनकी कैब उन्हें लेकर निकली, मुझे ना जाने क्या होने लगा। दोस्तो, मैंने जिंदगी में बहुत सेक्स किया है, नए नए लंड लिए हैं लेकिन हर बार सेक्स के पहले […]

तनख्वाह

On 2012-10-28 Category: हास्य रस- चुटकुले Tags:

एक आदमी ने बीवी को खत लिखा – इस महीने तनख्वाह के बदले 100 किस भेज रहा हूं, काम चला लेना। पत्नी ने जवाब भेजा – आपकी तनख्वाह के बदले 100 किस मिले, हिसाब भेज रही हूं। दूधवाला- 2 किस में मान गया। चुन्नू के टीचर को -7 देने पड़े। सब्जीवाला -7 में नहीं माना, […]

चूत से चुकाया कर्ज़-1

राज़ की इस हरकत की वजह से मेरे उरोज इतने बाहर आ गये कि निप्पल भी दर्शायमान होने लगे थे ! मेरे उस बदमाश आशिक़ ने दूसरे हाथ से निप्पल को बाहर निकाल दिया, बूब्स इस समय ब्रा और ब्लाउज़ में भी फंसे थे

इकलौते रह गए

On 2012-10-27 Category: हास्य रस- चुटकुले Tags:

शहजादा सलीम- हमारी अम्मी, अब्बू हमसे इतना प्यार करती थी कि हमें सुलाने के लिए वो सारी रात जागते रहते थे और फिर भी हम नहीं सोते थे…. अनारकली- तभी तो शहजादे, आप इकलौते रह गए…!

आसान काम नहीं है-2

मेरी चूत में अभी भी बर्फ़ का असर बरकरार था, मुझे लग रहा था कि अभी भी मेरी चूत में कुछ मोटा लण्ड जैसा फ़ंसा हुआ है, जैसे मैं अभी भी चुद रही हूँ।

सारा मुहल्ला खुश है

On 2012-10-26 Category: हास्य रस- चुटकुले Tags:

सलीम और उसकी बीवी शमीम बानो के बीच अदालत में तलाक का मुकदमा चल रहा था। जज ने सलीम से पूछा- तुम शमीम बानो से तलाक क्यों लेना चाहते हो? सलीम बोला- जज साहिब, मैं अपनी बेगम से खुश नहीं हूँ। जज ने शमीम बानो से पूछा- क्या तुम्हारा शौहर ठीक कह रहा है? शमीम […]

परीलोक से भूलोक तक

On 2012-10-26 Category: चुदाई की कहानी Tags:

एक बार फिर मैं अपनी नई कहानी लेकर आपसे रूबरू हो रहा हूँ, यह कहानी असल में मेरा एक सपना है, जो मैंने अभी तीन–चार दिन पहले ही देखा था, उसी को आपके सामने एक कहानी के रूप में पेश कर रहा हूँ, आशा करता हूँ मेरा यह सपना आप सभी को पसंद आएगा। मेरी […]

आसान काम नहीं है-1

सुबह दूध वाले भैया को तड़पाने के बाद मैंने अपने मित्र को सारा घटनाक्रम बताया तो उन्होंने मुझे यह साहस भरा काम सफ़लतापूर्वक सम्पन्न करने पर बधाई दी। लेकिन अब तो मेरे ऊपर जैसे जुनून सवार हो गया था, मुझे कुछ और करना था, मैं अपने उस मित्र के पीछे ही पड़ गई कि कुछ […]

मैं किसे अपना बदन दिखाने जाऊँगी?

रात को मैं छत पर मोमबत्ती लेकर नग्न घूमने के बाद नीचे पहुँची और अपनी आप बीती लिख कर सबसे पहले इंटरनेट पर उन दोस्त को बताया कि मैंने कर दिखाया ! शायद वो मेरी ही प्रतीक्षा कर रहे थे, वो मुझे ओनलाइन मिल गए और मैंने शुरू से आखिर तक पूरा घटनाक्रम बताया तो […]

डर और दर्द में भी मज़ा है

जब मैं एक एक करके अपने कपड़े उतार रही थी तब अजीब सी बेचैनी हो रही थी! पूरे कपड़े उतरे तो शीशे के सामने मैंने खुद को देखा! हे भगवान! पूरे बदन में बिजली सी दौड़ गई.. बता नहीं सकती कि क्या चल रहा था मेरे मन में! डर और रोमांच का मिलाजुला सा अनुभव […]

बड़े अच्छे लगते हैं

On 2012-10-22 Category: हास्य रस- चुटकुले Tags:

सोनी टेलीविजन पर सोमवार से गुरुवार तक रात 10.30 बजे एक धारावाहिक आता है, “बड़े अच्छे लगते हैं !” अब आप सभी बताओ कि किस महिला को “बड़े” अच्छे नहीं लगते हैं?

गांड फाड़ चूत चुदाई

On 2012-10-22 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषक : अमित कुमार नमस्कार दोस्तो ! मेरा नाम अमित है। आम आम तौर पर जैसे लड़के होते हैं, सब कुछ फटाफट बोल देने वाले, लेकिन मैं ऐसा नहीं था, मैं बहुत संकोची स्वभाव का था, यही कारण था कि मुझे चूत पहली बार लेने में इतनी देर हो गई। मेरी कितनी सारी लड़कियों से […]

मामी की अन्तर्वासना

रवि मैं अपने मम्मी-पापा का इकलौता बेटा हूँ, लेकिन एक गरीब परिवार होने के नाते हम एक छोटे शहर राजपुरा में दो कमरे वाले घर में ही रहते हैं। पापा राजपुरा में ही एक कारखाने में सुपरवाइजर हैं और मम्मी एक स्थानीय स्कूल में अंग्रेजी की अध्यापिका है। मैं बाइस साल का हूँ और घर […]

तीनों ले जाओ

On 2012-10-21 Category: हास्य रस- चुटकुले Tags:

प्रेषक : निक्की एक दिन नदी किनारे लकड़ी काटने वाला पेड़ पर चढ़कर लकड़ियाँ काट रहा था… पेड़ काटते-काटते उसकी कुल्हाड़ी नदी में गिर गई। वह रोने लगा, तो नदी में से भगवान निकले और उससे रोने का कारण पूछा… लकड़ी काटने वाले ने कहा कि उसकी कुल्हाड़ी नदी में गिर गई है और उसकी […]

पहले दोस्ती फिर चुदाई

हाय दोस्तो, मेरा नाम विक्की है, मैं दिखने में अच्छा हूँ, रंग सांवला है, मेरा कद 5’10” है। मुझे कभी चोदने का मौका नहीं मिला था, कई बार मैं लड़कियों के बारे में सोच कर मुठ मार लेता था। मुझे एक बार चोदने का मौका मिला, मैं इसकी पूरी कहानी बताता हूँ, मैं अपनी पहली […]

लॉटरी लगने वाली है

On 2012-10-20 Category: हास्य रस- चुटकुले Tags:

कक्षा एक शरारती बच्चे को डांटते हुए उसकी टीचर बोली- अगर मैं तेरी माँ बन जाऊँ तो मैं दो दिन में तुम्हें सुधार दूँ ! शैतान बच्चा- मैडम, तो मैं अपने पापा को बोल दूँ कि उनकी लॉटरी लगने वाली है…!!

देवरानी-जेठानी को चोदा-3

On 2012-10-20 Category: पड़ोसी Tags:

प्रेषक : सूरज कुमार जोशी मैं तो बेताब प्यासी लौंडिया को पाकर मस्त था और पूरी तरह से मस्त करके चोदने के चक्कर में था। कुर्सी पर बिठाने के साथ अपने लंड को हाथ से पकड़ उसके गुलाबी नर्म-नर्म होंठों के पास करते हुए कहा- ले मेरी जान, आगे वाला सुपारा मुंह में लेकर चूस, […]

देवरानी-जेठानी को चोदा-2

On 2012-10-19 Category: पड़ोसी Tags:

प्रेषक : सूरज कुमार जोशी मैं कामयाबी की शुरुआत छोटी बहू के साथ करने जा रहा था। लम्बे अरसे तक दोनों को चोद सकता था, खूब मज़ा देने वाली थी दोनों ! दोनों फंसी थी और खूब जवान थी। मैं छोटी वाली से बोला- चल अब मूत कर ले ! वो अन्दर जाने लगी तो […]

लंड कुमार का अपनी तनख्वाह बढ़ाने के लिए प्रार्थना पत्र और उसका जवाब

On 2012-10-18 Category: हास्य रस- चुटकुले Tags:

महोदय, मैं लंड कुमार आपसे प्रार्थना करता हूँ कि निम्नलिखित कारणों से मेरी तनख्वाह तुरंत बढ़ाई जाये ! * मुझे बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। * मुझे बहुत गहराइयों में काम करना पड़ता है। * हर काम में मुझे अपना सर पहले फंसाना पड़ता है। * मुझे बहुत घुटन भरे वातावरण में काम करना […]

Scroll To Top