मेरी रसीली चूत और दो लण्ड

(Meri Raseeli Chut Aur Do Lund)

आयशा शर्मा 2016-03-18 Comments

मेरा नाम आयशा है.. मैं हरियाणा रोहतक से हूँ.. मेरी उम्र 22 साल है, मेरी हाइट 5’6″ है और मेरा फिगर 32-28-34 का है.. रंग एकदम गोरा है।
यह स्टोरी मेरी रियल लाइफ की है.. बात एक साल पहले की है.. यानि मैं तब 21 साल की थी। मुझे कई लड़कों के प्रपोजल आते थे.. और काफ़ी लड़के मुझे बहुत उल्टा-सीधा बोलते रहते थे। लेकिन पता नहीं क्यों ये सब मुझे अच्छा लगता था।
उसी समय कॉलेज की एक लड़की ने मुझे बताया कि जिस लड़के को मैं पसंद करती हूँ.. वो भी मुझे पसन्द करता है।

जब मैंने उस लड़के से इस विषय में बात की तो उसने हाँ कर दी। अब हम दोनों रोज बात करने लगे.. बात आगे बढ़ी.. और 1-2 बार किस हुई..
फिर एक दिन वो बोला- कहीं घूमने चलते हैं..
तो मैंने अपनी फ्रेण्ड से पूछा.. तो उसने भी ‘हाँ’ कह दी।

फिर हम सबका आगरा जाने का प्लान बना.. और 2 दिन बाद हम सब घर से इजाजत लेकर चल पड़े।
हम 2 लड़कियाँ और 3 लड़के थे, सभी लोग सुबह 6 बजे आगरा के लिए रवाना हुए और 11-12 बजे तक वहाँ पहुँच गए।
वहाँ हमने एक होटल में रूम के लिए पूछा.. तो वहाँ 2 ही कमरे खाली थे।

हमने वो दोनों कमरे ले लिए और कमरे में जाकर फ्रेश हुए, फिर घूमने के लिए निकल पड़े।
ताजमहल देखा और बहुत दूसरी जगह भी काफी कुछ देखा.. खूब मस्ती की।

रात को 8 बजे होटल वापस आए और खाना खाया।
फिर हम सब सोने लगे.. तो मेरी एक फ्रेण्ड और जो उसका ब्वॉय-फ्रेण्ड था.. वो दूसरे कमरे में चले गए और अब हम 3 लोग ही कमरे में थे।

मेरा साथ मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड और उसका एक फ्रेण्ड था तो मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड बीच में लेटा और उसका फ्रेण्ड बिस्तर की एक साइड में लेट गया और मैं दूसरे किनारे पर लेट गई।

अब मैंने अपने ब्वॉय-फ्रेण्ड का फोन माँगा तो उसने दे दिया और वो मेरा फोन देखने लगा।
हम दोनों के पास ही ‘आईफोन 5’ हैं।

मैंने देखा कि उसके फोन में एक ब्लूफिल्म थी.. तो मेरा मन उसे देखने का हुआ.. तो मैंने उसके फ्रेण्ड के सोने का वेट किया..
जैसे ही वो सोया.. मैं हेडफोन लगा कर उस ब्लूफिल्म को देखने लगी।
जब मैं वो देख रही थी तो मेरी चूत से पानी निकलने लगा।

तभी मेरे ब्वॉय-फ्रेण्ड ने मुझे वो देखते हुए देख लिया।
वो बोला- यह क्या हो रहा है बाबू..
मैंने आँख दबा दी.. और फिर हम दोनों वो फिल्म एक साथ देखने लगे।

फिल्म से उत्तेजना बढ़ने लगी और उसने अपना हाथ मेरे मम्मों पर रख दिया और दबाने लगा, मैंने भी उससे कुछ नहीं कहा।
फिर उसने अपना हाथ मेरी टी-शर्ट के अन्दर डाल कर ब्रा के अन्दर डाल दिया और दबाने लगा।
वो बोला- बाबू तुम्हारे मम्मे तो बहुत मुलायम हैं।

मैंने उसका कुछ रिप्लाई नहीं किया.. फिर उसने मेरी टी-शर्ट और ब्रा उतार दी और मेरे मम्मों को चूसने लगा।
मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और मेरे मुँह से अपने आप ‘आआहह.. आआहह..’ की आवाजें निकल रही थीं।

उसने मम्मों को चूसते हुए अपना एक हाथ मेरी पैन्टी में डाल दिया और बोला- ये इतनी गीली क्यों हो गई।
तो मैंने कहा- अपने आप ही हो गई.. पता नहीं कैसे!

फिर उसने मेरा लोवर और पैन्टी भी उतार दी, अब मैं उसके सामना पूरी नंगी पड़ी थी।
फिर मैंने कहा- तुम भी अपने कपड़े उतार दो।
तो उसने भी अपने कपड़े उतार दिए।
उसका लंड 7.5 इंच का था।

मैंने कहा- इतना बड़ा अन्दर कैसे जाएगा?
तो बोला- इसकी चिंता तुम मत करो..
मैंने उसका लंड पकड़ लिया और हिलाने लगी।
तो वो बोला- इसे किस करो..
मैंने कहा- ठीक है..

और मैं उसे किस करने लगी।
किस करने के बाद मुझे अच्छा लगा.. तो मैंने उससे मुँह में ले लिया और चूसने लगी।
यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !

कुछ देर चूसने के बाद उसने मुझे बिस्तर पर चित्त लिटा दिया और वो मेरे ऊपर आ गया, उसने अपना लंड मेरी चूत पर लगा दिया और उसे वहाँ रगड़ने लगा।
मैंने कहा- मत सताओ.. अब डाल भी दो न..

तभी उसने एकदम से निशाना लगा कर पूरा अन्दर डाल दिया.. तो मैं एकदम बहुत ज़ोर से चिल्लाई।
चीख सुनकर उसका फ्रेण्ड भी उठ गया और बोला- क्या हुआ?
मुझे और उसे नंगा देख कर बोला- कुछ तो शर्म कर लिया करो।
तो मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड बोला- शर्म कैसी?
वो बोला- भाभी को खून आ रहा है..
मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड बोला- अबे फर्स्ट टाइम तो होता ही है..

वो बोला- पता है मुझे.. पर मुझे भी एक राइड करने दे ना..
मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड बोला- मेरी तो पूरी होने दे..

यह सुन कर मुझे झटका लगा.. मैं बोली- क्या मतलब?
तो मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड बोला- कुछ नहीं होता यार.. अन्दर जाकर सब एक जैसे ही होते हैं।
वो हँसता हुआ धकापेल अपना लंड अन्दर-बाहर करने लगा, मुझे भी अब मज़ा आने लगा।

तभी मैंने देखा.. कि उसका फ्रेण्ड भी अपने कपड़े उतार चुका था और उसका लंड 5 इंच का था.. तो मैं उसके लंड को हाथ में लेकर हिलाने लगी।

मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड मुझे चोद रहा था.. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।
तभी मेरा पानी निकल गया और मैंने कहा- हटो.. मेरा तो हो गया..
तो मेरा ब्वॉय-फ्रेण्ड बोला- मेरा भी होने वाला है..

फिर 10-15 शॉट के बाद बोला- अब मेरा निकलने वाला है।
तो मैंने कहा- अन्दर मत छोड़ना प्लीज़।
तो बोला- ठीक है।

और उसने मेरी चूत के ऊपर अपना पानी निकाल दिया।

अब उसका फ्रेण्ड बोला- अब मेरी बारी है।
मैंने कहा- थोड़ा तो रुक जा.. मैं कोई रंडी थोड़ी हूँ।
तो बोला- ठीक है।

उसने मुझे अपना बैग से एक चॉकलेट निकाल कर दी.. तो मैंने वो खा ली और फिर वो बोला- शुरू करूँ?
मैंने कहा- ठीक है.. कर लो..
फिर वो बोला- मैं नीचे आऊँगा..
तो मैंने कहा- ठीक है.. आ जा।

वो बिस्तर पर चित्त लेट गया और मैं उसके लंड को अपनी चूत में सैट करते हुए बैठ गई।

तो वो बोला- बैठना नहीं है.. कूदना शुरू कर दे।
मैं हँसते हुए उसके लंड पर उचकने लगी।

फिर 10 मिनट बाद मेरा पानी निकल गया.. तो मैंने कहा- अब मैं और नहीं कर सकती।
तो बोला- ठीक है.. तू नीचे आ जा..

और वो मेरा ऊपर आ कर मुझे चोदने लगा और मेरा मम्मों को दबाने लगा।
फिर 5 मिनट के बाद बोला- मेरा निकलने वाला है.. किधर लेगी..?
तो मैंने कहा- प्लीज़ बाहर निकालना।
बोला- बाहर निकालूँगा तो मुँह में ही निकालूँगा।
तो मैंने कहा- ठीक है..

वो बोला- जल्दी से ले.. निकलने वाला है।
तभी मैं भी उठी और उसका लंड मुँह में ले लिया, एक ज़ोर की धार के साथ मेरे मुँह में उसने अपना पानी निकाल दिया, मैं लपलप करके सब चाट गई।

फिर हम तीनों यूँ ही नंगे ही सो गए अब मैं उन दोनों के बीच में आराम से नंगी पड़ी थी।
सुबह मेरा से चला भी नहीं जा रहा था।

पहली बार में ही दो लन्डों से मेरी चूत चुदवाने की रसीली कहानी आपको कैसी लगी दोस्तो.. प्लीज़ ज़रूर बताना।
[email protected]

 

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top