एक्स-गर्लफ्रेंड की शादी के बाद चुदाई-1

(Ex Girlfriend ki Shadi Ke Bad Chudai-1)

This story is part of a series:

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम राज है और मेरी उम्र 20 साल है. आज मैं आपके सामने एक सेक्स कहानी प्रस्तुत कर रहा हूं, जो पूरी तरह से काल्पनिक सोच पर आधारित है.

लेखक की पिछली सेक्सी कहानी: मेरी बहन और जीजू की अदला-बदली की फैंटेसी

आज मैं अपनी एक्स-गर्लफ्रेंड कोमल से एक साल बाद मिलने जा रहा हूँ. वो मुझसे उम्र छह साल बड़ी है, फिर भी हम दोनों एक साल पहले रिलेशनशिप में थे.

जब हम दोनों एक दूसरे को प्यार करते थे, तब एक दिन सही मौका मिलते ही हम दोनों के बीच सेक्स संबंध बन चुका था. यह बात उसकी फैमिली को पता चल गई थी लेकिन उसने मेरे बारे में अपने फैमिली से कुछ नहीं कहा और उसके पिताजी ने दो महीने बाद उसकी शादी करवा दी, जो उसकी रिश्तेदारी में करवाई गई थी.

मेरी एक्स-गर्लफ्रेंड कोमल अब अपने पति के साथ दिल्ली रहती है और मैं मुंबई में रहता हूं. मेरे पिताजी का एक छोटा सा बिजनेस था और मैं अपने परिवार का एकलौता बेटा हूँ.

कोमल दिखने में बहुत खूबसूरत है. करीब एक महीने पहले मेरी कोमल से फिर से इन्स्टाग्राम के जरिए बात होने लगी. उससे बात होने के बाद मेरा फिर से उसके साथ सेक्स रिलेशन बनाने का मन कर रहा था.
लेकिन अब उसकी शादी हो चुकी थी इसलिए उसने मुझे मना कर दिया. तब भी एक दोस्त बनकर वो मुझसे चैट कर रही थी.

एक महीने के बाद वो मुझसे मिलने को राजी हो गई थी. वैसे तो अब मैं भी उसके साथ ज्यादा सम्बन्ध रखना नहीं चाहता था, लेकिन वो इतनी हॉट माल थी कि मेरा उसको दोबारा चोदने का मन कर रहा था.
मैं दस दिन से उसे मना रहा था लेकिन अब जाकर कोमल ने मुझे दिल्ली बुलावा दे दिया था. इस बुलावे का मैं न जाने कितने दिनों से इंतजार कर रहा था.

कोमल का पति दो दिन के लिए कंपनी के काम से बंगलौर जाने वाला था, उसके घर में उसके साथ रहने वाली ननद भी अपनी मौसी के घर गई थी, जिसको कुछ दिन बाद वापस आना था. यानि उसके पति के वापस आने तक मेरे पास दो दिन थे.

जैसा कि मैंने ऊपर बताया था कि कोमल मुझसे छह साल बड़ी थी, लेकिन वो मेरी उम्र की ही लगती थी. अब वो कैसी लगने लगी थी, इसका मुझे अंदाजा नहीं था, क्योंकि मैंने भी उसको एक साल से नहीं देखा था.

अब उसका भी थोड़ा सा मुझे मिलने का मन कर रहा था. इसलिए उसने मुझे तीन दिन बाद दिल्ली बुलाया था.

मैं तीन दिन बाद दिल्ली चला गया और एक होटल में ठहर गया. मैं अपने घर पर ये कहकर दिल्ली आया था कि मैं अपने दोस्त के पास जा रहा हूँ.

उसका पति रात को नौ बजे निकलने वाला था. मैं उसके बताए पते पर जाने के लिए निकल गया.

जब मैं उसके बताए पते पर पहुंचा, तो मालूम हुआ कि ये पता उस अपार्टमेन्ट का था, जहां वो रहती थी. मैंने पहले ही तैयारी कर ली थी ताकि किसी को पता ना चले.

उसके घर की बिल्डिंग पर पहुंचने के बाद मैंने स्थिति का जायजा लिया और वाचमैन को हजार रूपये देकर उसे इस बात के लिए राजी कर लिया कि वो मेरे आने जाने की सूचना अपने रजिस्टर में नोट न करे.

मैं अन्दर गया और लिफ्ट से तीसरी मंजिल पर चला गया. वो इसी माले पर बने एक फ्लैट में रहती थी. मैंने उसके फ्लैट का दरवाजे पर दस्तक दी, तो उसने आने का कहा.

वो कुछ सेकंड बाद दरवाजे पर आ गई और दरवाजा खोल दिया. मैं तो कोमल को देखते ही रह गया. उसका फिगर एक साल में कितना बदल गया था. अब तो वो पहले से भी ज्यादा हॉट एंड सेक्सी लग रही थी.

हम दोनों एक दूसरे को देखकर मुस्कराने लगे. उसने अन्दर आने का इशारा किया, तो मैं अन्दर चला गया.

फ्लैट के अन्दर जाते ही मैं सोफे पर बैठ गया और वो अन्दर चली गई. एक पल बाद वो मेरे लिए पानी लेकर आई.

कोमल- किसी ने देखा तो नहीं?
मैं- नहीं.

अभी उसने टी-शर्ट और लोवर पहना हुआ था, जिसमें उसका फिगर और ज्यादा सेक्सी लग रहा था. मैं उसकी सुंदरता को निहार रहा था और वो मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी. फिर वो मेरे पास बैठ गई.

मैं- अब तुम पहले से ज्यादा भी हॉट लग रही हो.

मेरी बात सुनकर वो मेरी ओर देखकर मुस्कराने लगी. मैं भी कोमल को देखकर मुस्कराने लगा.

कोमल- वैसे अब तुम भी बदले से लग रहे हो.
मैं- तुम चली गईं, तो मैं अकेला पड़ गया था.
कोमल- ऐसा है क्या … वैसे आजकल तुम क्या कर रहे हो?
मैं- बस तुम्हारी सेक्सी फिगर को देख रहा हूँ.
कोमल- अरे यार … मेरा मतलब कॉलेज खत्म हो गया?
मैं- यह आखिरी साल है … वैसे तुम्हारा घर बड़ा शानदार है.
कोमल- थैंक्स.

मैं- एक बात पूछूँ?
कोमल- क्या?
मैं- लगता है कि तुम्हारा पति तुमसे बहुत प्यार करता है. तुम्हारी फिगर काफी बदल गई है.
कोमल- हां बहुत ज्यादा … लेकिन आज मैंने उनसे झूठकर बोलकर कि मैं अपने पीहर जा रही हूँ, तुम्हें यहां बुलाया है.
मैं- चिंता मत करो, मैं तुम्हारी सेवा में कोई कमी नहीं रहने दूंगा.

मेरी इस बात पर कोमल मुस्करा उठी. मैं उसके और थोड़ा करीब हो गया.

मैं- तुम खुश तो हो न!
कोमल- क्या मैं तुम्हें दुखी लग रही हूँ?
मैं- वो एक साल पहले तुम्हारी शादी करवाई, तो मुझे लगा कि शायद …
कोमल- वो सब छोड़ … चल बता अब तक कितनी पटा ली हैं.
मैं- तुम्हारी जैसी अब तक दूसरी मिली ही नहीं.
कोमल- चल झूठे … सच बता न?
मैं- एक गर्लफ्रेंड है.
कोमल- उसे हमारे पहले के रिलेशनशिप के बारे में पता है?
मैं- नहीं.
कोमल- ओहह … मुझे उसकी फोटो तो दिखा.

मैंने अपने फोन में उसकी एक तस्वीर दिखाई और कोमल फोन में तस्वीर देखने लगी.

मैं- कैसी है?
कोमल- नाइस चॉइस.
मैं- मेरी चॉइस कभी भी खराब नहीं होती है … बस ये दुआ करो कि इस बार मेरी चॉइस किसी और की चॉइस न बन जाए.

कोमल- मैं क्या करूं … उस रात के बारे में, न जाने कैसे घर पर सभी को पता चल गया था और पिताजी ने मुझे तमाचा भी जड़ दिया था. डैड को हम दोनों का रिलेशन पसंद नहीं आया और इसी वजह से पिताजी ने अपने दोस्त के बेटे से मेरी शादी करवा डाली. पहले तो मैं इस शादी के लिए राजी नहीं थी … लेकिन फिर!

इतना कहकर कोमल एकदम से मेरे करीब हुई और मेरी बांहों में आ गई. मैंने भी उसको अपनी बांहों में ले लिया.

कोमल और में फिर एक दूसरे के आंखों में देखने लगे और फिर एक दूसरे के नजदीक आकर होंठों को चूमने लगे.

हम दोनों पूरे जोश में किस करने लगे थे. हमारी गर्म सांसें टकराने लगी थीं. मैंने कोमल की जांघ पर हाथ रख दिया और सहलाने लगा. कोमल अब भी किस में ही मशगूल होकर मुझे बड़ी बेताबी से किस कर रही थी.

फिर मैंने कोमल को अपने ऊपर खींच लिया. कोमल भी मेरी गोद में बैठ गई. हम दोनों मस्त होकर किस कर रहे थे.

आज रात क्या होने वाला था, वो हम दोनों जानते थे. जब एक साल पहले हमने पहली बार सेक्स किया था, तब मैंने कोमल की हालत पतली कर दी थी.
उसको उस समय बहुत दर्द हो रहा था, जिस वजह से वो ठीक से चल नहीं पा रही थी. शायद इसी कारण उसके घर पर सबको पता चल गया था. ये बात बाहर किसी को पता ना चले, इससे पहले उसकी शादी करवा दी गई. तब से मैं दोबारा चुदाई के लिए तड़प रहा था.

अभी जो मेरी गर्लफ्रेंड है, वो अभी मेरे साथ सेक्स के लिए तैयार नहीं थी … जिस वजह से मुझे बड़ी चुदास चढ़ रही थी.

हम दोनों तीन-चार मिनट बिना रुके किस करते रहे. फिर अलग हुए, तो एक दूसरे की ओर देखकर मुस्कराने लगे. फिर से एक बाद हम दोनों किस करने लगे.

इस बार मैंने अपने दोनों हाथ कोमल की गांड पर ले जाकर उसकी गांड को सहलाना शुरू कर दिया था. तभी कोमल भी शायद गरमा गई और उसने मेरी टी-शर्ट निकाल दी. अगले ही पल उसने खुद की टी-शर्ट भी निकाल दी. अभी उसने अन्दर काले रंग की ब्रा पहनी हुई थी, जिसके अन्दर के उसे फंसे हुए मम्मों को देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया. चूंकि कोमल मेरी गोद में बैठी थी, इसलिए लंड ज्यादा खड़ा नहीं हो पाया.

जिस चुत के लिए मैं तलबगार था, वो आज किसी और की अमानत बन चुकी थी. लेकिन आज के लिए वो मेरे लंड की होने वाली थी.

आज इधर कुछ समय बाद ही मैं कोमल की चुदाई करने वाला था. उधर उसका पति कंपनी के काम के सिलसिले में बाहर गया था और उसके साथ रहने वाली ननद भी घर पर नहीं थी.

तभी मेरी पैंट में मेरा फोन बज उठा, इससे हम दोनों ने किस करना रोक दिया. मैंने फोन बाहर निकाला, तो देखा कि अभी मेरी गर्लफ्रेंड रिया का कॉल आ रहा था. मैंने कॉल उठाया और एक बार कोमल को देखा. वो मेरी गोद में बैठी थी.

मैं- यस टेल मी?
रिया- क्या कर रहे हो?
मैं- कुछ नहीं बस एक रोमांटिक फिल्म देख रहा था.
रिया- क्या बात … मेरे बिना अकेले ही फिल्म देख रहे हो?
मैंने कोमल की पीठ पर हाथ रखकर कहा- मेरे साथ दोस्त भी हैं … वो सब छोड़ … कॉल क्यों किया?
रिया- क्यों नहीं कर सकती?
मैं- रिया एक काम कर … मैं तुमसे बाद में बात करता हूं, अभी मुझे फिल्म देखने दे.
रिया- ओके बाय … आई लव यू.
मैंने कोमल तरफ देखकर उससे कहा- आई लव यू टू.

फिर मैंने कॉल कट कर दिया और फोन को उधर ही सोफे पर रख दिया. मैंने कोमल की ओर देखा.

कोमल- अब तक कितनी लड़कियों के साथ सो चुके हो?
मैं- मतलब?
कोमल- मतलब मेरे अलावा कितनी लड़कियों के साथ सेक्स कर चुके हो?
मैं- सच कहूँ तो अब तक एक के साथ भी नहीं.
कोमल- क्या अब तक रिया के साथ भी नहीं किया?
मैं- वो अभी मना कर रही है.

कोमल- क्या बात है … इतना प्यार. उस रात तो तुमने मेरी वाट लगा दी, जिसकी सजा आज भी भुगत रही हूँ.
मैं- क्यों क्या हुआ?
कोमल- हमारी शादी को एक साल होने वाला है और उसने अब तक मेरे साथ सिर्फ कुछ ही बार सेक्स किया है.

मैं उसकी बात सुन कर चौंक गया. फिर मैंने कहा- तो इसी लिए तुमने मुझे बुलाया है.
कोमल- ज्यादा स्मार्ट मत बनो … अभी हम दोनों को एक दूसरे की जरूरत है.
मैं- यह बात बिल्कुल सच है, लेकिन मेरी एक शर्त है.
कोमल- कैसी शर्त?
मैं- मुझे आज तेरी गांड मारनी है … क्योंकि तेरी गांड बहुत मस्त लग रही है.

कोमल- नो वे … मैं तुम्हें अच्छी तरह से जानती हूँ … अगर मेरे हसबैंड को पता चल गया, तो मैं कहीं की नहीं रहूंगी. मैंने उसको वचन दिया था कि अब दोबारा कभी तुमसे नहीं मिलूंगी.
मैं- मतलब … वो मेरे बारे में जानता है!
कोमल- अब सुहागरात के रात अगर किसी मर्द को टूटी चुत मिलेगी, तो उसको पता तो चल ही जाएगा.

मैंने कभी नहीं सोचा था कि कोमल का पति मेरे बारे में जानता है. कोमल की इतनी खुली बात सुनकर मेरा लंड और उछलने लगा था.

मैं- अब तो मेरा लंड पहले तेरी गांड में घुसेगा.
कोमल- राज नहीं … मुझसे बर्दाश्त नहीं होगा.
मैं- तुम्हारे पति ने कितनी बार गांड मारी है.
कोमल- एक बार कोशिश की थी, लेकिन तब मुझे बहुत दर्द हो रहा था … इसलिए मैंने उसको मना कर दिया.

मैं- अगर सेक्स का मजा लेना है … तो कुर्बानी तो देनी ही पड़ेगी.
कोमल- जब से तुम मुझसे चैटिंग कर रहे हो, तब ही से मुझे पता चल गया था कि यह सब तुम मुझे चोदने के लिए कर रहे हो … लेकिन मुझे यह नहीं पता था कि तुम्हारी डिमांड भी बढ़ जाएगी.
मैं- वो सब छोड़ … गांड मारने देनी है या नहीं … वरना मैं चलता हूँ.
कोमल- अब मैं तुम्हें मना करूंगी, तो भी तुम मानोगे तो नहीं.

मैंने कोमल के मुँह पर हाथ रखकर किस करने लगा और कोमल भी मेरा साथ देने लगी.
कोमल- अन्दर बेडरूम में चलना चाहिए.
मैं- जरूर.

फिर कोमल खड़ी हो गई और मैंने अपना फोन उठा लिया. हम दोनों उसके कमरे में आ गए. कमरे में जाते ही कोमल ने दरवाजा बंद कर दिया और मैं उधर पलंग के सिरहाने अपना फोन रखकर उसकी तरफ देखने लगा. हम दोनों एक दूसरे के आगोश में आ गए. मैं उसे ऐसे किस करने लगा जैसे हॉलीवुड की फिल्म में हीरो-हीरोइन करते हैं.

मैंने कोमल को घुमा दिया और उसकी काले रंग की ब्रा की स्ट्रिप खोलकर ब्रा को निकाल दिया और पीछे से ही उसके मम्मों को सहलाते हुए दबाने लगा. मेरे चूचे दबाते ही वो मदहोश होने लगी और सीत्कार करने लगी.

उसने मदहोशी की हालत में सीत्कार करते हुए अपनी आंखें बंद कर दीं.

कोमल के मम्मों को छूते ही मेरा लंड खड़ा हो गया था. मेरे हाथों ने एक बार कोमल की मखमली गांड को भी छुआ.

उसके मम्मों को सहलाते ही मुझे समझ आ गया था कि अब तो उसके चूचे भी मस्त हो गए थे. मैं उसके दूध और जोश में आकर मसलने लगा. उसके दूध मेरे हाथों को इतनी मस्त लज्जत दे रहे थे कि अभी मैं मानो सातवें आसामान की सैर करने लगा था.

फिर कोमल ने भी मेरे हाथों पर हाथ रख दिए और खुद भी जोर से दूध मसलने का इशारा करने लगी. मैं भी उसके कातिलाना मम्मों को बेरहमी से दबाने लगा.

आज मेरी एक्स-गर्लफ्रेंड मेरे लंड से चुदने वाली थी. इसका पूरा मजा मैं आगे विस्तार से लिखूंगा.

आप अपने ईमेल मुझे भेजना न भूलिए.
[email protected]
कहानी जारी है.

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top