कोई मिल गया

ऎसे ही अनजानी लड़की लड़का या औरत मिल जाने पर हुई अचानक चुदाई की सेक्स कहानियाँ हिंदी में

किसी अन्जान अचानक मिले व्यक्ति से यौन सम्बन्ध की हिन्दी सेक्स कहानी

Hindi Sex Stories About Sex with unacquainted/unknown

अन्तर्वासना ट्रेन में चुदाई छह लंड से: यादगार सफ़र

यह अन्तर्वासना ट्रेन में चुदाई की कहानी एक चालू लड़की की है. वो ट्रेन में जा रही थी कि उसके साथ बैठे एक लड़के से दोस्ती हो गयी. उसके बाद क्या हुआ?

बिजनेस बचाने के लिए अफ्रीकन लंड से चुद गयी-2

बिजनेस के लिए मुझे अफ्रीकन के सामने ब्रा पैंटी में मॉडलिंग करनी पड़ी. मेरा सेक्सी अधनंगा जिस्म देख कर वो मेरी चूत चुदाई के लिए उतावला हो गया. तो मैंने क्या किया?

कॉलेजगर्ल की अनजान मर्द से जोरदार चुदाई-2

उसने मेरे चूतड़ फैलाए और मेरी गान्ड चाटने लगा। मैं बहुत ज़ोर से सिसकारने लगी। वह मेरी गान्ड चाटता रहा। उसका पूरा मुंह मेरे चूतड़ों में छुपा था. मेरी टांगें कांपने लगीं.

एक अनजान लड़की को दिया सम्पूर्ण आनन्द

मेरी सेक्स कहानी से प्रभावित एक लेडी ने मुझे अपने पास बुलाया. वे मुझसे सेक्स करके अपनी कामुकता को शांत करना चाहती थी. मैंने उनकी मदद की. मुझे भी बहुत मजा आया.

पत्नी प्रेम की नयी परिभाषा

अन्तर्वासना के एक पाठक ने मुझे मेल करके अपनी जवान बीवी की चूत चुदाई के लिए आमन्त्रित किया. उसने अपनी बीवी के जिस्म की नंगी तस्वीरें भेजी तो मैं राजी हो गया.

चूत चाटने का ख्वाब पूरा हुआ

पोर्न मूवी देख मुझे चूत चाटने की ख्वाहिश हो गयी थी। मेरी उसी कल्पना, फैंटेसी को मैंने शब्दों में पिरोया है। आंटी की चूत चाट कर मैंने कैसे चोदा? मजा लें इस काल्पनिक कहानी का.

नैनीताल में दो जवान लड़कियां एक साथ चोदी-1

मेरा भाई अपने दोस्तों के साथ नैनीताल घूमने गया तो उसकी दोस्ती उन्हीं के होटल में रुकी हुई दो लड़कियों से हो गयी और साथ ही घूमने गए. उसके बाद क्या हुआ?

देसी लड़की ने चलते ट्रक में चुत चुदवाई-1

मैं देसी लड़की हूँ. एक बार मैं अपने यार से मिलने शहर गयी पर मुझे गाँव आने के लिए कोई वाहन ना मिला तो मैंने एक ट्रक में लिफ्ट ले ली. मेरी चूत की चुदाई चलते ट्रक में कैसे हुई?

लंड की भूखी चुत को चोदकर शांत किया

मेरी दोस्ती एक मोटी औरत से हुई. उसका पति विदेश में जॉब करता था तो उसकी चूत चुदाई की भूखी थी. मैंने उस मोती औरत की चुत और गांड कैसे मारी? मजा लें.

गांडू की कामुक माँ की धमाकेदार चुदाई

मेरी फैन मेल में मुझे एक लड़के का मेल मिला. उसने कहा कि मैं उसका एक काम करूं. उसकी बात सुन कर मैं हैरान गया. उसने मुझे उसकी मां की चुदाई के लिए कहा.

बस में मिली अनजान औरत की चूत

जनवरी में मैं बस से इंदौर से नीमच जा रहा था. मेरे साथ बुर्के वाली एक लेडी बैठी थी. उसे ठंड लग रही थी तो मैंने उसे अपना कम्बल शेयर करने को कहा. तो क्या हुआ?

अंधेरे में चुद गई अनजान मर्द से

मेरे पति ने शादी के बाद मुझे खूब चोदा, मजा दिया. लेकिन बाद में वो फुस्स हो गए. मेरे मन में उठने वाली काम ज्वाला अब हर वक्त धधकने लगी। तो मैंने क्या किया?

भाभी को प्यार से चोदा-1

काफी दिन से मैंने चुदाई नहीं की थी तो चूतत के लिए बावला हुआ जा रहा था. एक बार एक दोस्त संग एक शादी में गया तो एक भाभी से दोस्ती हुई. भाभी को चोदा क्या मैंने?

आंटी के साथ चुदाई की सुनहरी रात-1

मैं मुम्बई गया परीक्षा देने तो वहां मुझे एक पहचान वाली आंटी मिल गयी. वो मुझे अपने घर ले गयी, मुझे होटल में नहीं रुकने दिया. घर में आंटी ने मेरी पूरी सेवा की.

न्यूज़ एंकर के साथ बितायी रात-1

मेरी कहानी पढ़ कर देश के एक नामी गिरामी न्यूज़ चैनल की एंकर ने मुझे मेल किया. उसने मेरे साथ रात बिताने की इच्छा व्यक्त की. मैंने उसकी बात मान ली और ...

विदेशी लंड से लहंगा उठाकर चुदी

मैं अपनी गांड चुदाई टीचर से करवाती थी. मेरी चूत में लंड नहीं गया था. एक दिन मैंने अपनी दीदी को दूधवाले से चूत चुदवाते हुए देखा. उसके बाद मेरी चूत कैसे चुदी!

अनजान कुंवारी लड़की संग सुहाना सफ़र

मैं बस से अम्बाला से दिल्ली जा रहा था। बस में मेरी दोस्ती एक लड़की से हुई जो कॉलेज ज्वाइन करने दिल्ली जा रही थी. उसके साथ मेरा सफर सुहाना कैसे हो गया?

तलाकशुदा का प्यार-1

मेरी कहानियों पे जो प्यार आपका मिलता है वो अभूतपूर्व है, अकल्पनीय है। आप सब का इस प्यार के लिए मैं राहुल श्रीवास्तव दिल से आभार प्रकट करता हूँ आशा है आप अपनी राय कमैंट्स बॉक्स में या ईमेल के जरिये मुझे देते रहेंगे. मेरी पिछली कहानी थी- भोली मस्त लड़की की ऑफिस में चुदाई […]

गैर मर्द के लंड का सुख-1

मैं अपने पति के साथ गाँव की शादी में गयी तो पड़ोस के एक घर में रुके. उस घर का मालिक तो मेरी जवानी पर मर मिटा. मेरे पति मेरे साथ थे तो मैं क्या करती?

सफर में मिला नया लंड-1

एक बार मुझे अकेली को ट्रेन से लंबा सफर करना पड़ा. ट्रेन में मेरे साथ एक पुरुष बैठा था. सामान्य बात करते करते हम दोनों आपस में कितना घुलमिल गए.

Scroll To Top