हिमांशु बजाज

जवाँ मर्द का आण्ड-रस-2

मार्केट में मैंने एक सेक्सी देसी लौंडे को देखा. उसके शार्ट्स में उसका लंड लटका हुआ अलग से दिख रहा था. लंड को मुंह से चूसने की लालसा में मैं उसके पास पहुंच गया.

पूरी कहानी पढ़ें »

जवाँ मर्द का आण्ड-रस-1

परीक्षा के बाद मैं घर पर बोर हो रहा था. मेरा दोस्त मेरे घर आया, उसने जिम ज्वाइन करने को कहा. जिम में मैं लड़कों को ताड़ने लगा पर मुझे कोई पसंद नहीं आया.

पूरी कहानी पढ़ें »

एक लड़के को देखा तो ऐसा लगा … -1

मैं लड़कों में रूचि रखता हूँ और एक लड़के के साथ ही अपनी जिंदगी बिताना चाहता हूँ. भारतीय समाज में ऐसा संभव नहीं है इसलिए मैंने कामेच्छा पूर्ति के लिए दूसरा रास्ता अपना लिया.

पूरी कहानी पढ़ें »

जब चुदी हुई चूत की हुई सिकाई-3

मेरा यार मुझे दो बार चोद चुका था. चुदाई मुझे अच्छी लगने लगी थी. लेकिन उसी रात जब मैं घर से बाहर गयी तो मेरे पड़ोसी चाचा के लड़के ने मुझे घेर लिया और …

पूरी कहानी पढ़ें »

जब चुदी-चूत की हुई सिकाई-2

एक बार अपने आशिक से चुदाई करवा लेने के बाद मैं नहीं चाहती थी कि वो किसी और लड़की को देखे। मैं कुछ ज्यादा बन संवर कर कॉलेज गयी और शाम को एक बार फिर …

पूरी कहानी पढ़ें »

जब चुदी हुई चूत की हुई सिकाई-1

जिस लड़के को मैं शुरू से पसंद करती थी, उससे चुदने के बाद घर आई तो मेरी योनि में दर्द हो रहा था. मैं उदास भी थी कि मैं कुंवारी हूं, अगर कहीं कुछ गड़बड़ हो गई तो?

पूरी कहानी पढ़ें »

जनवरी का जाड़ा, यार ने खोल दिया नाड़ा-3

मैं गर्म होकर उसकी जवानी के सागर में डूबने लगी और उसने मेरी सलवार के ऊपर से ही मेरी पैन्टी को टटोलकर मेरी चूत को सहलाना शुरू कर दिया तो मैं पागल होने लगी।

पूरी कहानी पढ़ें »

जनवरी का जाड़ा, यार ने खोल दिया नाड़ा-2

पेशाब करने के बाद सलवार का नाड़ा बांधने लगी तो ध्यान चूत पर गया। मैंने उसको हल्के से छुआ। उसकी चिपकी हुई फांकों को धीरे से अलग करके देखा। अंदर से लाल थी। लेकिन उनको छेड़ते हुए अच्छा लग रहा था।

पूरी कहानी पढ़ें »

जनवरी का जाड़ा, यार ने खोल दिया नाड़ा-1

लड़की जब जवानी की दहलीज पर होती है तो लड़कों को देख कर उसके दिल में भी वैसे ही उमंगें उठने लगती हैं जैसे लड़कों के मन में लड़की को देख कर उठती हैं. मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ.

पूरी कहानी पढ़ें »

एक कुंवारी एक कुंवारा-3

उसने मुझे जबरदस्ती बेड पर लेटाते हुए मेरे चूतड़ों के बीच में लंड लगाकर मुझे नीचे दबा लिया। मैं निकलना चाहता था लेकिन वो नहीं रुका और उसने फिर से वही धक्का मारा…

पूरी कहानी पढ़ें »

एक कुंवारी एक कुंवारा-2

मैंने सलवार का नाड़ा खोल उसे नंगी कर दिया, उसकी पैंटी भी उतार दी। पहली बार उसकी चूत के दर्शन हुए.. मैं तो पागल हो गया और उसकी हल्के बालों वाली चूत पर मुंह रख दिया.. उसने टांगें फैला दीं.

पूरी कहानी पढ़ें »

एक कुंवारी एक कुंवारा-1

समलैंगिकों को कानूनी मान्यता मिलने पर बहुत-बहुत बधाई। यह कहानी तब की है जब मैं पढ़ रहा था और मुझे लड़के अच्छे लगने लगे थे लेकिन मेरी गांड कोरी थी. एक जाट लड़का मुझे अच्छा लगा.

पूरी कहानी पढ़ें »

रोहतक के मलंग ने हिला दिया पलंग-2

दिल्ली मेट्रो में मिले लड़के के तने हुए लिंग को याद करते हुए मैं उसे अपनी योनि में लेने के लिए तड़प रही थी. तभी उसका फोन आ गया. मैंने उसे अपने घर का पता देकर बुला लिया. फिर क्या हुआ?

पूरी कहानी पढ़ें »

रोहतक के मलंग ने हिला दिया पलंग-1

मैं दिल्ली के पॉश इलाके में रहती हूं। किसी चीज़ की कमी नहीं लेकिन पति से सम्भोग के मामले में मेरी किस्मत मुझे ज्यादा कुछ नहीं दे पाई। वो सेक्स तो करते लेकिन मेरी कामना फिर भी अधूरी सी रहती।

पूरी कहानी पढ़ें »

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-7

हम दोनों साथ बैठकर मूवी देखने लगे। मूवी काफी हॉट थी, हीरो की नंगी चेस्ट देखकर मेरे अंदर वासना जागने लगी… मैंने उसके शार्ट्स की तरफ देखा तो उसका लंड तना हुआ था, और फिर..

पूरी कहानी पढ़ें »

अन्तर्वासना इमेल क्लब के सदस्य बनें

हर सप्ताह अपने मेल बॉक्स में मुफ्त में कहानी प्राप्त करें! निम्न बॉक्स में अपना इमेल आईडी लिखें, सहमति बॉक्स को टिक करें, फिर ‘सदस्य बनें’ बटन पर क्लिक करें !

* आपके द्वारा दी गयी जानकारी गोपनीय रहेगी, किसी से कभी साझा नहीं की जायेगी।

Scroll To Top