Sex Stories Archive for October, 2006

फुफेरी भाभी की चुदाई

दोस्तो, आज मैं आपके सामने एक सच्ची कहानी लेकर आया हूँ। बात उन दिनों की है जब मैं अपनी पढ़ाई के लिए दिल्ली आया था, मुझे मेरे बुआ के घर पर रहना था। मेरी बुआ का लड़का एक बहु-राष्ट्रीय कम्पनी में काम करता है। उनकी शादी अभी दो साल पहले हुई थी। मेरी भाभी जिनका […]

एक सीधे लड़के को कुंवारी चूत मिल गई

मुझे सेक्स के बारे में कुछ मालूम नहीं था। मेरे सभी दोस्तों की गर्लफ्रेंड थी पर मैं एक सीधा लड़का था। मुझे मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड ने अपनी सहेली की चूत दिलवाई. कैसे? मेरी रियल सेक्स स्टोरी में पढ़ें!

अगस्त की एक रात

On 2006-10-28 Category: कोई मिल गया Tags:

लेखक : रणजीत लूथरा यह बात हैं कुछ 12-14 साल पुरानी, तब मैं 19 साल का एक हट्टा- कट्टा नौजवान था। मैं मध्य प्रदेश के एक छोटे से गाँव “सिवामुलिक” में रहता था। हमारे गाँव में हर साल सावन में मेला लगता था और हम सारे दोस्त उस मेले में जाते थे, बहुत मज़े करते […]

माँ बेटी की चुदाई

दोस्तो, जैसा कि आप सभी जानते हैं कि मैं चंदा और उसकी बेटी छवि दोनों की चूत और गांड दोनों चोद चुका हूँ। जिन पाठकों ने मेरी वो कहानियां आंटी और उनकी छवि नहीं पढ़ी तो पढ़ लें पहले, उसके बाद इस कहानी को पढ़ें! अब मैं दोनों को एक साथ चोदना चाह रहा था […]

वो कौन थी

On 2006-10-26 Category: कोई मिल गया Tags:

वो एकदम से बेहद उत्तेजित हो जाते हैं और एकदम से खारिज हो जाते हैं, महीने पन्द्रह दिन में एकाध बार को छोड़ दें तो मैं यूं ही रह जाती हूँ ...

घर में सीमा की मस्त चूत चुदाई -2

मैंने देखा कि उसकी पैंटी गीली थी...मैं समझ गया कि सीमा झड़ चुकी है... फिर मैं उसकी गीली पैंटी से ही उसकी चूत के छेद में हाथ डालने लगा। वो बोली- यार, बड़ा मजा आ रहा है...

पार्क में सीमा की मस्त चूत चुदाई -1

बहुत सेक्सी, सुन्दर, सुडौल बदन वाली... जब वो चलती तो उसकी गांड ऐसे हिलती मानो अभी मेरा लौड़ा उसकी गांड में घुस जयेगा और वो तड़पने लगेगी...उसके वक्ष का आकार 34 था..

लण्ड दिखा कर चोदा

On 2006-10-22 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषक : चिंतन मेरे मित्र ने मुझे कुछ ही दिन पहले अन्तर्वासना के बारे में कहा था। पढ़कर बहुत मज़ा आया और अपना भी अनुभव आप लोगों तक पहुँचाने का मन किया। मुझमें एक आदत है- कोई भी लड़की मेरी तरफ़ देखती है तो दूसरे ही पल मैं उसके वक्ष को देखता हूँ और तुरन्त […]

रेलगाड़ी में पेल मारी

On 2006-10-21 Category: कोई मिल गया Tags:

मैं मुम्बई में रहता हूँ। मैं अपनी एक वास्तविक कहानी लिख रहा हूँ, अगर आपको पसन्द आए तो मुझे उत्तर लिखें। बात उस समय की है जब मैं कॉलेज में पढ़ता था… मेरी अन्तिम परीक्षाएँ समाप्त हो चुकी थीं और मैं उदयपुर से अपने पैतृक नगर सूरत ट्रेन से जाने वाला था। शाम के चार […]

तेरे भैया तो चूसने ही नहीं देते

भाभी ने कहा- ला राहुल, अब मुझे भी मजा लेने दे! तेरे भैया तो चूसने ही नहीं देते! ना चूसते हैं, ना ही चुसवाते हैं! भाभी ने झट से मेरा लंड मुँह में लिया।

ठेकेदार और उसके दोस्त से गांड मरवाई

On 2006-10-19 Category: गे सेक्स स्टोरी Tags:

लेखक : सनी मेरी कहानियाँ (कैसे बना मैं चुदक्कड़ गांडू, ट्रेन में लंड चूसा, मेरी गांड को लग गई मौज, एक और लंड डलवाया गांड में) मनघडंत और काल्पनिक नहीं होती। इन कहानियों के बाद जो प्यार मुझे मिला उसके लिए तह दिल से शुक्रिया। सबसे पहले गुरु जी का धन्यवाद जिन्होंने मेरी कहानियाँ पाठकों […]

कहानी एक रात की

मैं राहुल पहली बार अपने साथ हुई एक सच्ची घटना आपके सामने रखना चाहता हूँ! बात आज से करीब दो साल पहले की है, मैं अपने चाचा के यहाँ पर पढ़ाई करने के लिए गया हुआ था! तब मैं सेक्स के बारे में ज्यादा नहीं जानता था। मुझे यह तो पता था कि सेक्स करते […]

एक पति, एक प्रियतम

On 2006-10-17 Category: चुदाई की कहानी Tags:

लेखिका : यशोदा पाठक भरी जवानी में मैं अपनी क्लास के एक सुन्दर से लड़के से प्यार कर बैठी। झिझक तो खुलते खुलते ही खुलती है। पहले तो हम क्लास में ही चुपके से प्रेम-पत्र का आदान प्रदान करते रहे। एक दिन प्रतीक ने मुझे वहाँ के एक गार्डन में शाम को बुलाया। मैं असमंजस […]

हमें भी करना चाहिए

On 2006-10-16 Category: चुदाई की कहानी Tags:

प्रेषक : दमन सिंह मेरा नाम दमन है, उम्र २१ साल, मैं पंजाब का रहने वाला हूँ। मैं काफी स्मार्ट और हैण्डसम हूँ, मेरे व्यक्तित्व पर काफी लड़कियां फ़िदा हैं। मैंने काफी लड़कियों के साथ सेक्स किया है पर मैं आपको सिमरन शील नाम की लड़की के बारे में बताता हूँ। सिमरन एक बहुत ही […]

हमारी अधूरी कहानी-1

On 2006-10-15 Category: कोई मिल गया Tags:

अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा शत-शत नमन….. मेरा नाम आशु है। आपने मेरी कहानी स्वतन्त्रता दिवस तो ज़रूर पढ़ी होगी। उस वक़्त सोनिया के साथ जो हुआ वो तो हुआ ही लेकिन जैसे-जैसे बंगलौर में दिन बीत रहे थे, मेरी जवानी के नए-नए नखरे भी देखने को मिल रहे थे। मुझे खुद पर ही […]

फ़ौज़ी अंकल

On 2006-10-14 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषक : शक्ति कपूर मैं उस समय लगभग अट्ठारह साल की थी, तब का यह किस्सा है। मेरे माता-पिता किसी की शादी में बाहर गए हुए थे। उस दिन मैं एक सेक्सी प्रोग्राम टीवी पर देख रही थी। उसमें एक लड़का लेटा था तथा एक लड़की उसके पास बैठ कर उसके बदन से मस्ती कर […]

हो गई बल्ले बल्ले

On 2006-10-13 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषक : हर्ष हेल्लो दोस्तो, सभी को प्यार भरा नमस्कार ! मैं हर्ष मध्यप्रदेश के एक महानगर में रहता हूँ। मैं अन्तर्वासना की लगभग सारी कहानियाँ पढ़ चुका हूँ और हमेशा सोचा करता था कि अपने यौन-अनुभव भी कभी अन्तर्वासना में भेजूंगा। यूँ तो मैं सेक्स कई बार कर चुका हूँ पर मैं अपने जीवन […]

सुनहरे पल

On 2006-10-12 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषिका : दिव्या डिकोस्टा गोवा में लड़कियाँ जल्दी जवान हो जाती है। उसका मुख्य कारण है कि यहाँ सभी लोग मांस खाने शौकीन हैं। यहाँ पर तरह तरह की मछलियाँ, सूअर और बडे का मांस भी बहुत शौक से खाया जाता है। ये सब तामसी भोजन हैँ, इससे लड़कियाँ जल्दी बड़ी दिखने लग जाती है। […]

आखिर मैंने भी चोद दिया

On 2006-10-11 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

उसने नाइटी ऊपर कर ली, वह पैंटी भी नहीं पहने थी, अभी अभी चुदी हुई चिकनी चूत मेरे सामने थी, मैं पूरे पैरों पर मालिश करने लगा। थोड़ी देर बाद वह बोली- तेल का हाथ जरा चूत पर भी फ़ेर दे ... बेचारी बहुत पिटी है आज ...

अब मैंने छवि की गांड मारी

प्यारे दोस्तो, चंदा की बेटी छवि की चुदाई तो उसी रात मैंने कर दी जिस रात चंदा को चोदने उसके घर गया था। छवि की चूत चोद कर मुझे काफी संतुष्टि भी मिली लेकिन अभी भी मैं मौके की तलाश में था कि छवि की गांड कैसे मारूँ। हर समय मेरे आगे छवि का नंगा […]

Scroll To Top